logo

प्रियंका गांधी ने दिया चुनाव नहीं लड़ने का संकेतअखिलेश मसले पर विपक्षी दलों ने विधान परिषद में फिर सरकार को घेराहिंसा के चलते इलाहाबाद विश्वविद्यालय की परीक्षाएं स्थगित, यूनिवर्सिटी बंदपंजाब विधानसभा के बजट सत्र में हंगामा, शिअद विधायकों ने किया वाकआउटरोहतक में प्रेम विवाह करने वाले युगल की हत्‍या से सनसनीसेंसेक्स 119 अंक तक टूटा-निफ्टी 10800 के नीचे हुआ बंदअश्वनी लोहानी को मिली दूसरी बार एयर इंडिया की कमानसुस्त मांग से सोना फिर हुआ सस्तामनोहर सरकार की युवाओं व किसानों को लुभाने की कोशिशपूर्व डीएसपी जगदीश भोला को ड्रग रैकेट में 10 साल की कैदअसम में कांग्रेस पर बरसे पीएम नरेंद्र मोदी, नागरिकता बिल की जोरदार वकालतभाजपा ने मांगी और सीटें, शिअद का इन्कार, पुराने फॉर्मूले पर ही चुनाव लड़ेगा गठबंधनआतंकी फंडिंग से बनीं मस्जिदों व मदरसों पर गिर सकती है गाजकांग्रेस के हुए कीर्ति आजाद, कहा- दरभंगा से लड़ेंगे चुनावहरियाणा में काडर खड़ा करने फिर दौरे पर निकलेंगे ओमप्रकाश चौटालादेश के हर घर में जल्द ही खाना पकाने के लिए स्वच्छ ईंधन होगा: धर्मेंद्र प्रधानहिंसक हुआ गुर्जर आंदोलन, प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के 3 वाहनों में आग लगाईआतंकियों को मजबूत कर रहे अमेरिका और जर्मनी के हथियारकार्यक्रम में शामिल होने आए जिग्नेश मेवानी और खालिद का विरोधजल्द ही दिल्ली मेट्रो में खत्म हो जाएगा टोकन व स्मार्टकार्ड

पासपोर्ट फर्जीवाड़ा के आरोप में सुशील अंसल समेत तीन सिपाहियों पर केस

नई दिल्ली। 1997 के उपहार सिनेमा अग्निकांड में सजा पाने वाले सिनेमाघर के मालिक सुशील अंसल समेत तीन पुलिस कर्मियों के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने एफआइआर दर्ज कर ली है। तीनों पुलिस कर्मियों पर पासपोर्ट सत्यापन की रिपोर्ट अंसल के पक्ष में देने का आरोप है। इसमें दो पुलिसकर्मी 2014 में सेवानिवृत्त हो चुके हैं।न्यायमूर्ति नज्मी वजीरी की पीठ के समक्ष यह जानकारी शपथपत्र दाखिल करते हुए दिल्ली पुलिस ने दी। वजीरी ने 17 दिसंबर, 2018 को दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए थे। पीठ ने अब दर्ज की गई एफआइआर पर हुई जांच के संबंध में पुलिस को चार सप्ताह के अंदर एक प्रगति रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए हैं। इस मामले की अगली सुनवाई पांच मार्च को होगी। इस दौरान अदालत ने केंद्र सरकार की तरफ से पेश की गई रिपोर्ट को रिकॉर्ड पर लिया। साथ ही केंद्र सरकार को मामले में दोबारा से रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए।एसोसिएशन आॅफ विक्टिम आॅफ उपहार ट्रेजडी (एवीयूटी) की अध्यक्ष नीलम कृष्णमूर्ति द्वारा दाखिल किए गए आवेदन में आरोप लगाया गया है कि पासपोर्ट अधिकारियों की मिलीभगत से साजिश रचकर पासपोर्ट जारी किया गया। यही नहीं उपहार कांड में दोषी करार दिए जाने के बाद भी लगातार सुशील का पासपोर्ट जारी किया जा रहा था। वहीं पुलिस ने सत्यापन से जुड़े दस्तावेज भी पेश नहीं किए। उन्होंने कहा कि सुशील अंसल ने 2017 में अपना पासपोर्ट तब सरेंडर किया, जब इस मामले में याचिका दायर कर जांच की मांग की गई। 13 जून 1997 को उपहार सिनेमा में एक हिंदी फिल्म के दौरान आग लग गई थी, जिसमें 59 लोगों की मौत हुई थी। इसमें नीलम कृष्णामूर्ति के दो बच्चे भी शामिल थे।.